ISRO

उपग्रह संचार

हमारे देश में आज टेलीवि‍जन डी टी एच प्रसारण, डि‍जीटल उपग्रह समाचार समाहरण (डीएसएमजी) तथा वी-सैट जैसे विविध अनुपयोगों में उपग्रह संचार का प्रयोग विस्‍तृत व सर्वव्‍यापी हो गया है। यह उपग्रह संचार आवरण व पहुँच के कारण सम्‍भव हो सका है। गत 30 वर्षों के दौरान यह तकनीक और भी अधिक परिपक्‍व हुई है तथा अब इसे अनेक अनुपयोगों में व्यावसायिक रूप में प्रयोग किया जा रहा है। उपग्रह संचार का अपने जीवन पर पड़ रहे प्रभावों के बारे में जितना हम समझते हैं, उससे कहीं अधिक रूपों में हम प्रभावित होते हैं।

सामाजिक हित के उपयोगों में इस तकनीक की क्षमताओं के प्रति इसरो सदैव से आकर्षित रहा है तथा इस क्षमता का मानवता की भलाई में इस्‍तेमाल करने की कोशिशें निरन्‍तर करता रहा है। इसरो द्वारा सामाजिक हित में किए जा रहे प्रयासों में दूर शिक्षा (टेली एजुकेशन), दूर चिकित्‍सा, ग्राम संसाधन केन्‍द्र (वीआरसी) तथा आपदा प्रबंधन प्रणाली (डीएमएस) कार्यक्रम शामिल है। देश के विकास हेतु अनुप्रयोगों में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी की क्षमताऍं अपार है ।