ISRO

पीएसएलवी-सी30

भारत के ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी-C30), ने अपने इकतीसवीं उड़ान में 1515 किलो एस्ट्रोसैट का भूमध्य रेखा से 6 डिग्री के झुकाव पर 650 किमी की कक्षा में प्रमोचन किया। पीएसएलवी-C30 का 28वें सितंबर 2015 को सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र(एसडीएससी) शार, श्रीहरिकोटा के प्रथम प्रमोचन पैड (FLP) से प्रमोचन किया गया था । पीएसएलवी-C30 पीएसएलवी की तीसवीं लगातार सफल उड़ान थी। एस्ट्रोसैट के साथ-साथ, कनाडा, इंडोनेशिया और अमेरिका से छह छोटे उपग्रहों को भी कक्षा में स्थापित किया गया। इस प्रकार पीएसएलवी ने अपनी 31 वीं उड़ान में सात उपग्रहों का प्रमोचन किया ।

 

सरसरी नज़र में पीएसएलवी-C30 [वाहन लिफ्टऑफ द्रव्यमान: 320.2 टन ऊंचाई: 44.4 मी]
  चरण 1 चरण 2 चरण-3 चरण-4
पारिभाषिक शब्दावली

कोर चरण पीएस1

+6 स्ट्रैपऑन मोटर्स

पीएस 2 पी एस 3 पी एस 4
प्रणोदक

ठोस {एचटीपीबी आधारित}

तरल{UH25 + N2O4}

ठोस {एचटीपीबी आधारित}

तरल {MMH + एमओएन 3}

प्रणोदक मास (टी)

138.2 { कोर }, 6 x 12.2 {स्ट्रैपऑन}

41.35 7.6 1.6

चरण का व्यास (एम)

2.8 {कोर}{1 स्ट्रैपऑन}

2.8 2.0 1.34

चरण की लंबाई (एम)

20 {कोर } {12 स्ट्रैपऑन}

12.8 3.6 3.0

 

एचटीपीबी: हाइड्रॉक्सिल टरमिनेटेड पॉली बूटाडाइन, UH25: असममितीय डाइमिथाइल हाइड्राजिन + 25% हाइड्राजिन हाइड्रेट

N2O4: नाइट्रोजन टेट्राक्साइड, MMH: मोनो मिथाइल हाइड्राजिन, एमओएन-3: नाइट्रोजन मिश्रित आक्साइड